18 February, 2019

बीबीएयू कुलपति पर अज्ञात युवकों का हमला

  • मारपीट से चोटिल कुलपति ट्रामा सेंटर में हुए भर्ती
  • छात्रों और प्रोफेसर की आंखों के बने हुए थे किरकिरी

लखनऊ। यूं तो बाबा साहब भीमराव अंबेडकर यूनिवर्सिटी में छात्रों और शिक्षकों के बीच रोजाना ही मारपीट झगड़ा, गाली-गलौज और इन्हीं मुद्दों को लेकर धरना प्रदर्शन होता ही रहता है लेकिन पिछले कुछ दिनों से अपने फैसलों के चलते प्रोफेसर वर्मा छात्रों के साथ ही प्रोफेसरों की भी आंख के किरकिरी बने हुए थे, पिछले दिनों जब विविद्यालय के वित्त अधिकारी के खिलाफ फर्जी रिपोर्ट वापस लेने की बात कार्य परिषद में उठी तब भी इनका रवैया ढुलमुल बताया गया इसको लेकर शिक्षकों में काफी रोष देखने को मिला, ऐसे ही कार्य परिषद के दौरान बीबीएयू के एक शिक्षक से भी काफी कहा सुनी हुई थी जिसकी शिकायत राष्ट्रपति से भी की गई है यही नहीं छात्रों की भी कार्यवाहक कुलपति से काफी नाराजगी थी छात्रों के विभिन्न मुद्दे हुआ करते थे जिनको लेकर वे अक्सर कुलपति से न्याय की उम्मीद लेकर पहुंचते थे लेकिन उनके मामले लटके हुए थे ऐसे में हमला करने वाला छात्र है या शिक्षक यह तो जांच के बाद ही साफ हो पाएगा।

बाबा साहब भीमराव अंबेडकर यूनिवर्सिटी (बीबीएयू) के कार्यवाहक कुलपति प्रोफेसर एनएमपी वर्मा को सोमवार की रात 9:30 बजे के करीब कुछ छात्रों ने मारपीट कर घायल कर दिया है बताया जाता है कि प्रोफेसर एनएमपी वर्मा को मुंह पर और शरीर में अंदरूनी चोट आई हैं प्रोफेसर वर्मा लोकबंधु में सघन जांच के लिए एडमिट भी हो गए हैं इस बात की शिकायत मिलने पर एसएसपी समेत अन्य आला अधिकारियों के मौके पर पहुंचने की बात सामने आई हैबाबा साहब भीमराव अंबेडकर यूनिवर्सिटी के कार्यवाहक कुलपति प्रोफेसर वर्मा रोज की तरह खाना खाने के बाद कैंपस में गेट नंबर 2 के पास टहल रहे थे इस बीच तीन चार युवक उनके करीब आए और नमस्कार किया उन्होंने भी नमस्कार का जवाब नमस्कार से दिया कि अचानक उन युवकों में से एक् ने कुलपति से मारपीट करना शुरू कर दिया इसके बाद सभी युवकों ने उनके साथ अभद्रता की और मारपीट की इस मारपीट के दौरान प्रोफेसर वर्मा को चेहरे और शरीर के अन्य हिस्सों में अंदरूनी चोट आई है युवकों से बचने के लिए प्रोफेसर वर्मा सामने बने डॉक्टर संजय द्विवेदी के आवास के अंदर घुस गए और उन्हें पूरी बात बताई जिसके बाद अन्य प्रोफेसर और शिक्षकों ने उन्हें फौरन लोकबंधु अस्पताल पहुंचाया बताया जाता है कि अस्पताल प्रशासन ने उन्हें एडमिट कर सघन जांच शुरू कर दी है इस बीच जानकारी पाकर आशियाना थाने के इंस्पेक्टर व पुलिस विभाग के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं अधिकारी सीसीटीवी कैमरे से आरोपी की पहचान करने में जुटे हुए हैं देर रात तक इस मामले को लेकर आशियाना थाने और लोकबंधु अस्पताल में अफरा-तफरी का माहौल थागौरतलब है कि पिछले वर्ष लखनऊ विविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर सुरेंद्र प्रताप सिंह तत्कालीन रजिस्ट्रार राजकुमार सिंह और डॉक्टर विनोद कुमार सिंह के साथ कुछ छात्रों ने 4 जुलाई को मारपीट और हाथापाई की थी जिस के आरोप में डेढ़ दर्जन छात्र अब तक कई महीनों की जेल काट चुके हैं ऐसे में सोमवार की रात बीबीएयू के कार्यवाहक कुलपति के साथ मारपीट की जानकारी पाकर पुलिस के आला अधिकारियों में हड़कंप की स्थिति है।

rgautamlko@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

POST A COMMENT