15 December, 2018

बसपा से 102 मुसलमान प्रत्याशी लड़े, जीते सिर्फ पांच बसपा की रणनीति में हुई चूक लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी ने इस बार प्रदेश विधानसभा चुनाव में मुस्लिम समाज से 102 प्रत्याशी उतारे थे, लेकिन भाजपा की रणनीति कहें या फिर कुछ और, इनमें से मात्र

READ MORE

लखनऊ। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में इस बार विधानसभा चुनाव के दंगल में भाजपा की सोशल इंजीनियरिंग के ‘‘धोबी पछाड़’ ने विरोधियों को सियासी हाशिये पर धकेल दिया। मेरठ, सहारनपुर और मुरादाबाद मंडलों में परंपरागत सवर्ण विरादरियों के साथ ही पिछड़े और अति पिछड़ों को साधने

READ MORE

समाजवादी पार्टी के संरक्षक का छलका दुख लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी को मिली करारी हार से पार्टी के पदाधिकारी सकते में हैं। नेताजी की ङिाड़की और उनकी सख्त नाराजगी होली के बाद होने वाली समीक्षा बैठक में बड़ा मुद्दा बन सकती है।

READ MORE

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड की ऐतिहासिक जीत के बाद मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा 14 मार्च के बाद कभी भी हो सकती है। होली के बाद उपलब्धता के आधार पर विधायक दल की बैठक में राय बनाने के बाद केंद्रीय पर्यवेक्षक और राष्ट्रीय

READ MORE

लखनऊ। अम्बेडकर नगर के कटहरी विधानसभा क्षेत्र से विजयी बसपा के कदवर नेता लालजी वर्मा के पुत्र विकास वर्मा ने गोली मार आत्महत्या की कोशिश की। गंभीर हालत में उन्हें किंग जार्ज चिकित्सा विविद्यालय के ट्रामा सेंटर वन में भर्ती कराया गया है। गंभीर हालत

READ MORE

भाजपा के नये विधायकों की बैठक 16 को अनिल जैन व कैलाश विजयवर्गीय केन्द्रीय पर्यवेक्षक नियुक्त लखनऊ।भारतीय जनता पार्टी ने संसदीय बोर्ड की बैठक में 16 मार्च को चुने विधायकों की बैठक बुलाने का निर्णय लिया है, इसके साथ ही राष्ट्रीय महामंत्री अनिल

READ MORE

लखनऊ। प्रदेश विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की आंधी के बीच जनता ने एक बार फिर बाहुबालियों को सिर माथे पर लिया है हालांकि कुछ बाहुबालियों व उनके परिजनों को शिकस्त भी मिली है। सलाखों के पीछे बंद मुख्तार अंसारी फिर से माननीय बनने

READ MORE

लखनऊ। विधानसभा चुनाव के परिणाम में एक तरफ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की जीत का परचम बुलंदियों की ओर जा रहा था, दूसरी ओर अधिकारी उसी तेजी से स्याह-सफेद निर्णयों से भरी फाइल फाड़ने में मशगूल थे। सचिवालय व एनेक्सी (मुख्यमंत्री सचिवालय) में कई सौ

READ MORE

लखनऊ। गिरकर चढ़ना और फिर सत्ता में पहुंचने के बाद एक झटके से उतरना बसपा के लिए एक पुरानी परम्परा जैसा ही है। बसपा ने पहली बार बहुमत की जिस धमक के साथ -2007 में सरकार बनायी थी, ठीक वैसे ही -2012 सत्ता से बेदखल

READ MORE

लखनऊ। कुनबे के संग्राम में जीत, चुनावी समर में हार के बाद अब सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के सामने संगठन को मजबूती देने के साथ जनाधार को वापस लाने की चुनौती तो होगी ही लेकिन, कुनबे के अंदर से फिर चुनौती नहीं मिलेगी, यह दावा

READ MORE