22 October, 2018

लखनऊ। बीएसपी की राष्ट्रीय अध्यक्ष, सांसद व यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री सुश्री मायावती ने पूर्वांचल के कुशीनगर में रविवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की रैली को पूरी तरह से फ्लाप बताया। उन्होंने कहा कि एक छोटे से मैदान में भाजपा के टिकटार्थियों व भाड़े से

READ MORE

न्यूयॉर्क।अमेरिका की प्रतिष्ठित टाइम पत्रिका के ‘पर्सन ऑफ द ईयर’ खिताब की दौड़ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सबसे आगे चल रहे हैं। रीडर्स पोल में मोदी को 11 फीसद वोट मिले हैं। उन्होंने अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन समेत

READ MORE

अमृतसर। विधानसभा हलका पूर्वी से भाजपा की पूर्व विधायक डॉ. नवजोत कौर सिद्धू के खिलाफ कांग्रेसी लामबंद होने लगे हैं। हलके से अहम दावेदारों ने अपने वर्करों के साथ गुप्त बैठकों का दौर शुरू कर दिया है, ताकि भविष्य की रणनीति तैयार कर सकें। वहीं

READ MORE

आगरा। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर रविवार को जोरदार हमला बोला। कहा कि दो हजार के नोटों से तो कालाधन बढ़ जाएगा। हम भी भ्रष्टाचार के खिलाफ हैं, लेकिन बिना तैयारी के एक हजार और 500 रुपये के नोट

READ MORE

नई दिल्ली। नोटबंदी के खिलाफ गोलबंद विपक्ष पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को दोतरफा हमला किया। अपने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ से लेकर उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में भाजपा की ‘परिवर्तन यात्रा’ रैली तक में विपक्ष को आईना दिखाने की कोशिश की। रैली

READ MORE

मुंबई। नोटबंदी के 19वें दिन आखिरकार रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल ने चुप्पी तोड़ी। हर सवाल के जवाब दिए जो लोगों के मन में हैं। नोटबंदी को उन्होंने पूरे जीवन में कहीं एक बार आने वाली घटना करार दिया। साथ ही यह भी कहा

READ MORE

भारत का संविधान 26 नवंबर 1949 में स्वीकार किया गया. संविधान के मायने क्या होते हैं, शायद उस समय भारत के लोगों को यह पता नहीं था. लेकिन दुनिया में संविधान का महत्व स्थापित हो चुका था. अमेरिका में 1779 में संविधान बन चुका था.

READ MORE

नई दिल्ली। बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने एक बार फिर नोटबंदी को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधा है। उन्होंने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ”केंद्र सरकार ने बिना तैयारी के 500 और 1000 के नोट बंद कर दिए। यह पीएम मोदी

READ MORE

पत्रकारिता में आई गिरावट के लिए हम सभी दोषी हैं, पत्रकार, सम्पादक और अपने नैतिक दायित्वों का निर्वाहन नहीं कर रहे हैं। अधिकतर चैनलों और मीडिया संस्थानों में अब मालिक खुद ही एडीटर एंड चीफ बन गए हैं। इससे आप उम्मीद कर सकते हैं, मालिक

READ MORE

शिशुपाल सिंह लखनऊ।  देश की आम जनता भले ही बैंकों से अपनी गाढ़ी कमाई को निकालने के लिए भगीरथी प्रयास करने के बावजूद अपनी दिक्कतों पर मुंह पर ताला लगा रखा हो, लेकिन हमारे नेताओं को भावुक होने का रोग लग गया है। जहां इस

READ MORE