25 September, 2018

शिशुपाल सिंह लखनऊ। भ्रष्टाचार के खिलाफ योगी सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति को शासन के अफसर कुंद कर रहे हैं। सरकार की नीतियों को भ्रष्टाचार से बचाने में जुटे माननीयों की चिट्ठियों को जहां शासन के आला अफसर रद्दी की टोकरी में फेंक रहे हैं वहीं भ्रष्टाचारियों

READ MORE

लखनऊ। जनता को नैतिकता और शुचिता का पाठ पढ़ाने वाले राजनीतिक दल खुद इससे कितना परहेज करते हैं, इसका उदाहरण आप नगर निगम के बकाए हाउस टैक्स से देख सकते हैं। जनता से बकाए बिल की वसूलने के लिए एफआईआर तक दर्ज करवाने की हिमायती

READ MORE

राजेन्द्र के. गौतम लखनऊ। यूपी की सरकारों में कभी दलित अफसरों महत्वपूर्ण पदों पर तैनाती देने में भेदभाव नहीं किया जाता था। सरकारों की दरियादिली के कारण कई दलित अफसर सामाजिक और राजनीतिक तौर पर हरदिल अजीज बने। लेकिन सबका साथ सबका विकास का दावा करने

READ MORE

लखनऊ। तथाकथित ईमानदार रिटायर्ड आईएएस सूर्य प्रताप सिंह अखिरकार अपने मकसद में सफल हो ही गया। राजनीति पहचान बनाने और योगी सरकार में पद की चाहत में सोशल मीडिया पर गैर भाजपा नेताओं के बारे में अक्सर विवादित टिप्पणी करके मीडिया में सुर्खियां बटोरने में

READ MORE

लखनऊ। जेडीयू के वरिष्ठ नेता शरद यादव इस वक्त अपना राजनीतिक अस्तित्व बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं। ऐसा कतई नहीं है कि शरद यादव को बीजेपी से दोस्ती उसूलों के खिलाफ लगती है। जो लोग ऐसा सोचते हैं, उन्हें थोड़ा याद करने की जरूरत है

READ MORE

गैस एजेंसी का ठेका मोदी फार्मा से हटा कर इंम्पीरियल गैस कंपनी को दे दिया गया भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ी बच्चों की मौतें  लखनऊ।बीआरडी मेडिकल कालेज गोरखपुर में हुई दर्जनों बच्चों की मौत पर जिस तरह हाय-तौबा मची है उसके पीछे न सिर्फ मेडिकल कालेज

READ MORE

यूपी में होने वाले लोकसभा उपचुनाव में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रतिष्ठा दांव पर भाजपा जीती तो वाह-वाह, विपक्ष जीता तो उसकी बल्ले-बल्ले विनय मिश्र इलाहाबाद। ऑक्सीजन की कमी से 70 मासूम बच्चों की मौत का खौफनाक साया मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के पीछे आगामी लोकसभा

READ MORE

श्रवण शुक्ला लखनऊ। योगी सरकार सरकारी विभागों को भ्रष्टाचार से दूरी बनाए रखने और मित्तव्ययता का पाठ पढ़ा रही हो, लेकिन घपलों के लिए कुख्यात बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग के आला अफसर बाज नहीं आ रहे है। विभाग के अफसरों ने खुद को पुष्टाहार कराने

READ MORE

सौरभ शर्मा लखनऊ। यूपी के संस्कृत विभाग की कार्यप्रणाली अजब-गजब है। अंधेर नगरी चौपट राजा के जैसा राज चल रहा है। अच्छे काम को तरजीह देने के बजाए गलत संरक्षण दिया जा रहा है। जहां एक ओर कलाकारों को यशभारती पुरुस्कार से पुरुस्कृत करने के लिए

READ MORE