21 April, 2018

कर्जमाफी के बावजूद बैंक कर रहे हैं किसानों से वसूली : अखिलेश

लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आरोप लगाया है कि उत्तर प्रदेश में कर्जमाफी के बावजूद बैंक किसानों से वसूली कर रहे हैं।

श्री यादव ने कहा कि मेरठ के जमालपुर गांव के किसान मदन पाल पाण्डेय पर स्टेट बैंक आफ इंडिया का 58682 रुपये कर्ज था। सरकार ने उनका कर्ज माफ कर प्रमाणपत्र भी दे दिया था, लेकिन उनके खाते में गन्ने का भुगतान 65 हजार रुपये आते ही बैंक ने 58682 रुपये की कटौती कर ली। श्री पाण्डेय प्रमाणपत्र लेकर दर -दर भटक रहे हैं लेकिन कहीं कोई मदद नहीं मिल रही है।

उन्होंने किसान से पत्रकारों को प्रमाणपत्र दिखाने के लिये भी कहा। किसान के साथ आये जमालपुर के प्रधान गौरव चौधरी का कहना था कि उनके गांव के आसपास 12 गांव ऐसे हैं जिनमें 35 किसानों के साथ इस तरह की घटनायें हुई हैं। उनका आरोप था कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार की कथनी और करनी में फर्क है। किसान परेशान हैं। कोई सुनने वाला नहीं है।

गौरतलब है कि योगी सरकार ने 86 लाख किसानों के एक लाख रूपये तक की कर्ज माफ करने की घोषणा की थी।स पर करीब 36 हजार करोड़ रूपये व्यय करने का प्रावधान किया गया था। सपा अध्यक्ष ने कहा कि महोबा में 27 किसानों ने कर्जमाफी के इंतजार में जान दे दी, लेकिन सरकारी मदद नहीं मिली। उनका कहना था कि सरकार नौकरी दे नहीं रही है, आजम खाँ जैसे नौकरी देने वालों के खिलाफ जांच की बात जरुर कर रही है।
उन्होंने श्री खाँ को जानबूझकर परेशान करने का आरोप लगाया और कहा कि सरकार श्री खाँ को बदनाम कर रही है। विपक्षी दलों के नेताओं को सीबीआई और ईडी का डर दिखाया जा रहा है। ऐलिवेटेड सड़क का दोबारा उद्घाटन किया गया। इसी तरह लखनऊ मेट्रो का भी उद्घाटन किया गया था।
श्री यादव ने कहा कि कई परियोजनाएं ऐसी हैं जो सपा सरकार ने बनायी थीं, लेकिन उद्घाटन करते समय मुख्यमंत्री जी सपा का जिक्र तक नहीं करते। उन्होंने आरोप लगाया कि उनकी सरकार के दौरान चलायी गयी कई योजनाओं को केन्द्रीय संस्थाओं ने अनापत्ति प्रमाणपत्र ही नहीं दिया।

 

grish1985@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

POST A COMMENT