21 September, 2018

टिकट बंटते ही कर्नाटक में आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति शुरू

बेंगलुरु। कर्नाटक विधानसभा चुनाव में सत्तारूढ़ कांग्रेस और विपक्षी दल भाजपा की ओर से लगभग प्रत्याशियों के ऐलान के साथ ही आंतरिक कलह और दोनों प्रमुख पार्टियों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का खेल शुरू हो गया है। आरटीआई के हवाले से मुख्यमंत्री सिद्धारमैया पर पिछले तीन महीने में 56 करोड़ रुपए खर्च किये जाने के आरोप के बाद भाजपा ने कांग्रेस पर पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले के आरोपी मेहुल चोकसी के वकील एच.एस चंद्रमौली को टिकट दिए जाने को लेकर एक बार फिर सवाल उठाए जा रहे हैं । 

 

खास बात यह है कि एच.एस चंद्रमौली को टिकट दिए जाने को लेकर कांग्रेस में भी विरोध के सुर बुलंद हो रहे हैं। इसके साथ ही कांग्रेस ने भाजपा की ओर से खनन घोटाले के आरोपी रहे मंत्री जी जनार्दन रेड्डी के बड़े भाई जी सोमशेखर रेड्डी को बेल्लारी सिटी से टिकट दिये जाने को लेकर भी सवाल उठाए हैं। वहीं इस मसले पर कर्नाटक प्रदेश उपाध्यक्ष और मीडिया प्रभारी प्रोफेसर ई के राधाकृष्ण ने कहा, ‘भाजपा अगर एच.एस चंद्रमौली को लेकर कांग्रेस पर आरोप लगा रही है तो केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली भोपाल गैस ट्रेजेडी के आरोपियों के अधिवक्ता थे, क्या वकील होना कोई गुनाह है ?’

 

हालांकि, एच.एस चंद्रमौली ने बयान जारी कर कहा, ‘मैं 35 साल से वकील हूं और कोई भी मेरे पास केस लेकर आ सकता है. वकील के रूप में, मेरा कर्तव्य मेरे मुवक्किल की रक्षा करना है, मैं सिर्फ चौकसी का ही वकील नहीं हूं, मेरे कई और क्लाइंट हैं।’

rgautamlko@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

POST A COMMENT