18 July, 2018

केजीएमयू के डॉक्टर किशोरी के कटे हाथ को प्रत्यारोपित कर बने भगवान

kgmu, doctor, transplant, teenager, lucknow, lakhimpur khiri, divyasandesh
  • कटा हाथ जोड़ किशोरी को लौटायीं खुशियां
  • प्लास्टिक सर्जन डा. ब्रजेश ने सहयोगियों के साथ किशोरी के कटे हाथ को किया प्रत्यारोपित 
  • परिवार कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने केजीएमयू पहुंचकर किशोरी का लिया हालचाल

लखनऊ। केजीएमयू के प्लास्टिक सर्जन डा. ब्रजेश ने अपने सहयोगियों के साथ लखीमपुर से आयी 12 वर्षीय किशोरी के पूरी तरह कटे एक हाथ को प्रत्यारोपित करने में सफलता प्राप्त की है। इसमें ट्रामा यूनिट की न्यूरो सर्जन व एनेस्थिसिया के डा. रिचा वर्मा तथा डा. नेहा गुप्ता ने सहयोग दिया। करीब ग्यारह घंटे तक चली प्लास्टिक सर्जरी के बाद किशोरी की हालत बेहतर है।

डाक्टरों के अनुसार किशोरी के सिर में भी गंभीर चोटें व गहरे घाव हैं। इस बीच प्रदेश की परिवार कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने केजीएमयू पहुंच कर किशोरी का हालचाल लिया और उसके परिजनों से बातचीत करके मदद का आश्वासन दिया। परिवार कल्याण मंत्री ने कहा है कि दोषी को बख्शा नहीं जाएगा और किशोरी के इलाज व पुनर्वास में पूरी मदद की जाएगी। गत दिवस लखीमपुर खीरी के सदर कोतवाली क्षेत्र में सिरफिरे ने दिनदहाड़े एक किशोरी पर तलवार से हमला करके उसका हाथ हथेली से अलग कर दिया था। दोबारा प्रहार करते हुए उसके सिर में चोट पहुंचाई तथा दूसरा हाथ भी बुरी तरह जख्मी कर दिया था। यह मामला छेड़ छाड़ का बताया जा रहा था।

किशोरी लगातार विरोध कर रही थी। यह घटना दोपहर तीन बजे के आस-पास हुई थी। स्थानीय डाक्टरों ने तत्काल औपचारिक इलाज करते हुए किशोरी को केजीएमयू के लिए रेफर कर दिया था। जहां पर डाक्टरों ने किशोरी की हालत को देखते हुए प्लास्टिक सर्जरी के आपरेशन थियेटर भेज दिया था। डा. ब्रजेश ने बताया कि किशोरी का बायां हाथ कलाई के पास पूरी तरह से अलग हो गया था तथा दाहिना हाथ कोहनी के पास से गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त था जिसे स्नायुतंत्र तथा हाथ के नसों को माइक्रोस्कोप से सर्जरी करके जोड़ा गया। न्यूरो सर्जन उसके सिर में लगी चोटों का इलाज कर रहे है। 

rgautamlko@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

POST A COMMENT