14 December, 2018

नाबालिग छात्रा ने लगाया दुराचार का आरोप, छेड़छाड़ का मामला दर्ज

  • पीडि़ता ने पुलिस पर लगाया आरोप, नही दर्ज की दुराचार की एफआईआर

एम.एम.सरोज

लखनऊ। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ महिलाओं की सुरक्षा के लिए कटबध्य है उन्होंने एंटी रोमियो स्क्वायड टीम का गठन किया जहां टीम ने प्रदेश भर में महिलाओं के प्रति हो रहीं घटनाओं को रोकने के लिए कुछ दिन तक तो जमकर अभियान चलाया और इसका असर भी देखने को मिला, लेकिन कुछ माह बाद एंटी रोमियो स्क्वायड टीम गायब सी हो गई जिससे महिलाओं के प्रति अपराध फिर से बढ़ रहा है।

पूर्व डीजीपी सुलखन सिंह ने अभी पीछले माह ही नारी सुरक्षा सप्ताह का अभियान चलाया था जहां महिलाओं और छात्राओं को सुरक्षा के गुर सिखाये गये, और पुलिस ने वादा किया कि अगर किसी महिला और छात्राओं के साथ किसी भी तरह अपराध होता है तो पुलिस उसकी हर संभव मदद कर अपराधी को कड़ी से कड़ी सजा देगी। वहीं 1090 के आईजी नवनीत सिकेरा ने महिलाओं के साथ हो रहे अपराध को गम्भीरता से लिया है उन्होंने तो महिलाओं के साथ अभ्रत्ता करने वालो को चेतवानी दी है कि अगर किसी ने महिलाओं के साथ अभ्रत्ता की तो उसे कतई बक्सा नहीं जायेगा उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाहीं की जायेगी। लेकिन इनके आदेशो की धज्जियां खुद इनका विभाग उड़ा रहा है। मामला बंथरा थाना इलाके का है जहां तीन दिन पहले शौच के लिए निकली एक किशोरी को अकेला पाकर गांव के ही तीन लड़कों ने उसके साथ छेड़छाड़ की। नाबालिग का आरोप है कि इस दौरान उसे बंधक बनाकर एक ने उसके साथ जबरन दुराचार किया। पीडि़त ने शोर मचाया तो आरोपी उसे धमकाते हुए वहां से भाग गये। परिजनो का आरोप है कि जब मामले की तहरीर पुलिस को दी गई तो पुलिस ने घटना को छेड़छाड़ में दर्जकर पीडि़ता को थाने से चलता कर दिया। पीडि़ता ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि पुलिस ने उसका मेडिकल तक नहीं कराया, परेशान पीडि़ता गुरुवार को सीओ कृष्णानगर लाल प्रताप सिंह के पास न्याय की गुहार लगाते हुए आरोपियों के खिलाफ दुराचार का मामला दर्जकर आरोपियों के गिरफ्तार की मांग की। बंथरा थाना इलाके में एक किसान की नाबालिग बेटी को 8 जनवरी शाम करीब 8 बजे वह घर से अकेले ही शौच के लिए गई थी। तभी वहा गांव के अर्जुन, रवि और टोनी रावत ने जबरन उसका हाथ पकड़कर छेड़छाड़ शुरू कर दी। आरोप है कि विरोध करने पर रवि और टोनी ने उसका मुंह बंद करने के साथ ही हाथ पैर पकड़ लिए और अर्जुन ने अपनी हवस का शिकार बना डाला। किसी तरह आरोपियों के चंगुल से छूटने पर जब किशोरी ने शोर मचाया तो उसकी चीख पुकार सुनकर उसका बड़ा भाई दौड़ा, लेकिन उसे आता देख तीनों आरोपी वहां से भाग खड़े हुए। पीडि़ता किशोरी का आरोप है कि उसने घटना की सूचना पुलिस को दी, लेकिन पुलिस पहले तो टालमटोल करती रही और बाद में बुधवार शाम छेड़छाड़ में मामला दर्ज कर लिया। पीडि़ता के मुताबिक थाने से जब रिपोर्ट की कॉपी मिली तब उसे दुराचार का मामला छेड़छाड़ में दर्ज होने का पता चला। इसके बाद उसने गुरुवार को सीओ कृष्णानगर को प्रार्थना पत्र देकर उचित कार्रवाई की मांग की। उधर बंथरा थानाध्यक्ष बलवंत शाही का कहना है कि पीडिता की तरफ से छेड़छाड़ की तहरीर मिली थी उसी अधार पर 354, 323, 504 व पास्को एक्ट में मुकदमा दर्जकर आरोपियों की तालाश की जा रहीं है और आज ही पीडि़ता का १६४ का ब्यान दर्जकरा कर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी।

grish1985@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

Sorry, the comment form is closed at this time.