11 December, 2018

विपक्ष का ‘भारत बंद’ पूरी तरह नाकाम : रविशंकर प्रसाद

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कांग्रेस समेत विपक्षी दलों द्वारा आहूत ‘भारत बंद’ को पूरी तरह से नाकाम बताते हुए इस दौरान हिंसा की घटनाओं पर दुख जताते हुए कड़ी भर्त्सना की है। केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भारत बंद के दौरान हिंसा, आगजनी और एंबुलेंस को रोके जाने की वजह से बिहार के जहानाबाद में दो साल की बच्ची की मौत की घटना पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से जवाब देने की मांग की है।
भाजपा के वरिष्ठ नेता और कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पार्टी मुख्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भारत बंद पूरी तरह से नाकाम हुआ है| देश की जनता ने इसका समर्थन नहीं किया है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में सभी को विरोध करने का अधिकार है| भाजपा इसका स्वागत करती है, किंतु विपक्ष के भारत बंद के दौरान जिस तरह की हिंसा हुई है उसकी भाजपा भर्त्सना करती है। उन्होंने कांग्रेस समेत समूचे विपक्ष से सवाल किया कि क्या लोकतंत्र में अब हिंसा के माध्यम से राजनीति की जाएगी।
प्रसाद ने कहा कि भारत बंद के नाम पर पेट्रोल पंपों में आग लगाने की घटनाएं सामने आईं हैं और बसों और गाड़ियों में तोड़फोड़ की जा रही है। उन्होंने कांग्रेस नेतृत्व से पूछा कि इन घटनाओं का जिम्मेदार कौन है। उन्होंने कहा कि विपक्ष द्वारा बंद के दौरान भय का माहौल पैदा किया जा रहा है।
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि लोकतंत्र में अस्पतालों, एम्बुलेंस और दवा की दुकानों को बिना किसी बाधा के काम करने की अनुमति है| उनके साथ कोई जोर जबरदस्ती नहीं की जाती। किंतु, बिहार में बंद के दौरान एंबुलेंस को रोका गया जिस कारण समय से अस्पताल नहीं पहुंच पाने से दो साल की बच्ची की दुखद मौत हो गई। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से सवाल किया कि वह बताएं कि इन घटनाओं के लिए कौन जिम्मेदार है।
पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर प्रसाद ने कहा कि सरकार जनता की समस्याओं के साथ खड़ी है और इसका हल निकालने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल की कीमतें सरकार के हाथ में नहीं हैं क्योंकि तेल उत्पादक देश ने अपने उत्पादन को कम कर रखा है। उन्होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर ईरान और वेनेजुएला में राजनीतिक अस्थिरता का असर है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि तेल की कीमतें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तय होती हैं, बावजूद सरकार इसका हल निकालने की दिशा में काम कर रही है।
उल्लेखनीय है कि पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों के विरोध में कांग्रेस ने ‘भारत बंद’ का आह्वान किया है जिसका विपक्षी दलों ने भी समर्थन किया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह, सोनिया गांधी, गुलाम नबी आजाद, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) प्रमुख शरद पवार, लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव समेत कई दलों के नेता रामलीला मैदान में आयोजित धरना प्रदर्शन में शामिल हुए। 

grish1985@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

Sorry, the comment form is closed at this time.