21 October, 2018

मोदी ने बनाया विदेशी दौरों का रिकार्ड

Prime Minister Narendra Modi, foreign tour, Rti

राजेन्द्र के. गौतम

लखनऊ। विश्व के 195 देशों में से 88 देशों की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सरकारी सैर कर चुके हैं। कुछ देशों के दौरे कई बार किए हैं। इन देशों की यात्राओं पर 355 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं जबकि कई देशों की यात्राओं का बिल अभी तैयार नहीं हो पाया है। इस तरह प्रधानमंत्री अभी तक अपने कार्याकाल के दौरों में कुल 172 दिन की विदेश की यात्राओं रहे। इस जानकारी का खुलासा प्रधानमंत्री कार्यालय से जनसूचना अधिनियम के तहत सूचनाओं से हुआ है। लेकिन प्रधानमंत्री के विदेशी दौरों पर साथ गए देश के उद्योगपतियों और नौकरशाहों व पत्रकारों के प्रतिनिधि मण्डल के नामों के खुलासे से परहेज किया है।

उल्लेखनीय है कि निष्पक्ष दिव्य संदेश के विशेष संवाददाता राजेन्द्र के. गौतम द्वारा प्रधानमंत्री कार्यालय से मांगी गई जनसूचना अधिनियम के तहत प्राप्त सूचनाओं से पता चला है कि देेश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपनी पहली दो दिवसीय विदेशी यात्रा भूटान पर गए थे। इस यात्रा पर 2,45,27, 465 करोड़ रुपए खर्च हुए थे। दूसरी ब्राजील देश की 20,35,48,000 करोड़ रुपए, तीसरी नेपाल यात्रा आईएएफ बीबीजे एयरक्राफ्ट के जरिए (व्यय का विवरण नहीं), जापान यात्रा पर 13,47,58,000 करोड़ रुपए, यूएसए की यात्रा पर 19,04,60,000 करोड़ रुपए, म्यांमार, आस्ट्रेलिया, फिजी की यात्रा पर 22,58,65,000 करोड़ रुपए, सेशल्स, मारीशस, श्रीलंका की यात्रा पर 15,85,25,000 करोड़ रुपए, सिंगारपुर की यात्रा आईएएफ बीबीजे एयरक्राफ्ट के जरिए (व्यय का विवरण नहीं), फ्रांस, जर्मनी, कनाडा की यात्रा पर 31,25,78,000 करोड़ रुपए, चीन, मंगोलिया, साऊथ कोरिया की यात्रा पर 15,15,43,000 करोड़ रुपए, बंगला देश की यात्रा आईएएफ बीबीजे एयरक्राफ्ट के जरिए (व्यय का विवरण नहीं), उज्बेकिस्तान, कजाकिस्तान, रूस, तुर्कमेनिस्तान, किर्गिजस्तान, तजाकिस्तान की यात्रा पर 15,78,39,000 करोड़ रुपए, संयुक्त अरब अमीरात की यात्रा पर 5,90,66000 करोड़ रुपए, आयरलैंड और यूएसए की यात्रा पर 18,46,95,000, यूके और टर्की की यात्रा पर 9,30,93,000 करोड़ रुपए, मलेशिया और सिंगापुर की यात्रा पर 7,04,93,000 करोड़ रुपए, फ्रांस की यात्रा पर 6,82,81,000 करोड़ रुपए, रूस, अफगानिस्तान और पाकिस्तान की यात्रा पर 8,14,11,000 करोड़ रुपए, बेलेजियम, यूएसए, सऊदी अरब की यात्रा पर 15,75,02,000 करोड़ रुपए, ईरान यात्रा आईएएफ बीबीजे एयरक्राफ्ट के जरिए (व्यय का विवरण नहीं), अफगानिस्तान, कतर, स्वीजरलैंड, यूएसए, मैक्सिको की यात्रा पर 13,91,66,000 करोड़ रुपए, उज्बेकिस्तान की यात्रा पर 6,32,78,000 करोड़ रुपए, मोजाम्बिक, साउथ अफ्रीका, तंजानियां, केन्या की यात्रा पर 12,80,94,000 करोड़ रुपए, वियतनाम, चीन की यात्रा पर 9,53,91,000 करोड़ रुपए, लाओस की यात्रा पर 4,77,51,000 करोड़ रुपए, जापान यात्रा पर 13,05,83,000 करोड़ रुपए, श्रीलंका की यात्रा पर 5,24,04,000 करोड़ रुपए, जर्मनी, स्पेन, रूस, फ्रांस की यात्रा पर 16,51,95,000 करोड़ रुपए, कजाकिस्तान की यात्रा पर 5,65,08,000 करोड़ रुपए, पुर्तगाल, यूएसए और नीदरलैंड की यात्रा पर 13,82,81,000 करोड़ रुपए, इजराइल और जर्मनी की यात्रा पर 11,28,48,000 करोड़ रुपए, चीन और म्यांमार की यात्रा पर 13,87,80,000 करोड़ रुपए, फिलीपिंस की यात्रा पर 10,11,68,000 करोड़ रुपए, स्वीजरलैंड की यात्रा 13,20,83,000 करोड़ रुपए, जोर्डन फिलिस्तीन, यूएई, ओमान की यात्रा पर 9,49,64,000, स्वीडन और यूके की यात्रा का बिल अभी प्राप्त नहीं हुआ, चीन की यात्रा 6,07,46,000 करोड़ रुपए, नेपाल, चीन, इंडोनेशिया, मलेशिया, सिंगापुर, चीन, रवांडा, युगांडा,  साउथ अफ्रीका का भी बिल अभी प्राप्त नहीं हुआ है। 31 अगस्त 2018 तक नेपाल की यात्रा का बिल अभी प्राप्त नहीं हुआ है।
15 जून 2014 से लेकर 31 अगस्त 2018 तक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 44 विदेशी दौरों में 88 देशों की 172 दिन की सरकारी यात्रा का चुके हैं। यात्राओं पर दिए गए खर्च के विवरण के मुताबिक 355 करोड़ रुपए खर्च हो चुके हैं और अभी पांच दौरों का खर्च का विवरण बकाया है। विदेश यात्राओं पर लगभग 400 करोड़ रुपए से अधिक आने की उम्मीद है। वरिष्ठï पत्रकार और राजनीतिक विश्लेषक रतनमणि लाल का कहना है कि विदेशी दौरों से देश का मान-सम्मान बढ़ता है। विदेशी दौरों पर ज्यादा खर्च को तवज्जो न दी जाए। आजादी के बाद कई ऐसे देश अछूते रहे, जहां देश के प्रधानमंत्री नहीं गए, जबकि वहां भारतीयों की पर्याप्त संख्या है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पहली बार ऐसे देश की यात्राओं पर गए। इससे विश्व में भारत की साख बढ़ी है। यह बात सही है कि अभी तक सबसे अधिक विदेशी दौरे करने का रिकार्ड प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का है। इतनी अधिक विदेश यात्राएं पूर्ववर्ती प्रधानमंत्रियों ने नहीं की है।

 

rgautamlko@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

Sorry, the comment form is closed at this time.