21 October, 2018

राहुल जी, प्लीज मेरी इमेज मत खराब कीजिए : अनिल अंबानी

Anil Ambani, Legal notice, Congress leaders, reliance company
  • अनिल अंबानी ने राफेल पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल को लिखा पत्र
  • दिसम्बर में भी राहुल को एक चिट्ठी लिख चुके हैं अनिल अंबानी
  • चिट्ठी में कहा गया, हमारे कारपोरेट प्रतिद्वंद्वी दे रहे हैं भटकाने वाली जानकारी

नई दिल्ली।कांग्रेस जब राफेल सौदे को गांव-गांव तक भ्रष्टाचार के मुद्दे के रूप में उभारने का निर्णय ले चुकी है, तब रिलायंस के प्रमुख अनिल अंबानी ने एक बार फिर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को पत्र लिखकर निजी हमले बंद करने को कहा है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इससे पहले 12 दिसम्बर को इसी विषय पर लिखे गए अंबानी के पत्र का जवाब नहीं दिया था। इस बार भी कांग्रेस अध्यक्ष का यही रुख दिखता है। पार्टी ने भी इस पत्र के बारे में पूछे जाने पर कुछ नहीं कहा है। संभवत: पार्टी राफेल को लेकर मंगलवार को कुछ और आरोप लगाएगी।

अंबानी ने एक हफ्ते पहले राहुल को नया पत्र लिखा है। उन्होंने राहुल से कहा है कि उनके और कंपनी के खिलाफ निजी हमले बंद होने चाहिए, क्योंकि यह कॉरपोरेट के उनके विरोधियों की गलत जानकारी पर आधारित हैं। अंबानी का कहना है कि वह न तो राफेल या उससे जुड़ी कोई सामग्री बना रहे हैं और न उन्हें इस संबंध में सरकार से कोई काम मिला है। उनकी ओर से यह बात भी जोर देकर कही गई है कि सभी 36 राफेल विमान फ्रांस से ही बनकर आ रहे हैं, उनका कोई सामान भारत में नहीं बनाया जाने वाला है।

रिलायंस का कहना है कि अनिल अंबानी ने यह भी राहुल को समझाने का प्रयास किया है किफ्रांस की कंपनी डसॉल्ट और रिलायंस के बीच करार आफसेट अनिवार्यता को पूरा करने के लिए किया गया है, जिसका राफेल की खरीद से कोई लेना-देना नहीं है। कंपनी के अधिकारी कह रहे हैं कि डसॉल्ट सिर्फ लड़ाकू विमान ही नहीं बनाती, वह फलकेन एक्जीक्युटिव जेट भी बनाती है। अगर रिलायंस की बात पर विास किया जाए तो रिलायंस का इसी तरह के विमान के लिए ही डसॉल्ट से समझौता हुआ है। अनिल अंबानी ने कांग्रेस और उसके अध्यक्ष के इस आरोप पर भी कड़ी आपत्ति की है कि रिलायंस डिफेंस राफेल सौदे से 10 दिन पहले बनी थी। अंबानी ने कहा कि रिलायंस ने रक्षा सामान बनाने का काम करने की घोषणा दिसम्बर 2014-जनवरी 2015 में की थी। उन्होंने कहा कि फरवरी 2015 में स्टॉक एक्सचेंज को भी इसकी जानकारी दे दी गई थी। 

rgautamlko@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

Sorry, the comment form is closed at this time.