19 November, 2018

सरदार पटेल भारतीय गणराज्य के शिल्पी हैं : मुख्यमंत्री

Yogi

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधान सभा पर आज सरदार वल्लभभाई पटेल की 143वीं जयंती के अवसर पर एक समारोह का आयोजन किया गया। समारोह में उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, वित्त मंत्री श्री राजेश अग्रवाल, विधि एवं न्यायमंत्री श्री बृजेश पाठक, चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री आशुतोष टण्डन, पर्यटन मंत्री श्रीमती रीता बहुगुणा जोशी, सहकारिता मंत्री श्री मुकुट बिहारी वर्मा सहित अन्य मंत्रिगण, मुख्य सचिव डाॅ0 अनूप चन्द्र पाण्डेय, पुलिस महानिदेशक श्री ओ0पी0 सिंह, महापौर डाॅ0 संयुक्ता भाटिया सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उपस्थित जनसमूह को राष्ट्रीय एकता की शपथ दिलायी तथा राज्यपाल ने मैराथन ‘रन फार यूनिटी’ का झण्डी दिखाकर शुभारम्भ किया। इससे पूर्व राज्यपाल ने सी0आर0पी0एफ0, पी0ए0सी0 दल तथा विभिन्न विद्यालयों द्वारा आयोजित मार्च पास्ट का अभिवादन भी स्वीकार किया।

राज्यपाल ने कहा कि आज का दिन भारत के इतिहास में स्वर्ण दिन है। सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती के अवसर पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने गुजरात के सरदार सरोवर बांध पर लौह पुरूष की विश्व की सबसे भव्य 182 मीटर ऊंची प्रतिमा का लोकार्पण किया। सरदार वल्लभभाई पटेल स्वतंत्रता सेनानी के साथ-साथ दृढ़ इच्छाशक्ति वाले महान व्यक्ति थे इसलिये उन्हें लौह पुरूष के नाम से जाना जाता है। अंग्रेजों के समय उन्होंने लगान वृद्धि के विरोध में किसानों के लिये आंदोलन चलाया। उन्होंने कहा कि सरदार वल्लभभाई पटेल के जीवन से प्रेरणा प्राप्त करके आज के अवसर पर ली गयी शपथ को व्यवहार में लायें।

श्री नाईक ने कहा कि देश को एकता के सूत्र में पिरोने में सरदार पटेल की बड़ी भूमिका रही है। आजादी से पूर्व विद्यमान रियासतों में से करीब 565 रियासतों का विलय उन्होंने भारत में किया। सरदार पटेल ने छोटी-छोटी रियासतों को इक्ट्ठा करके भारत की एकता और अखण्डता को मजबूत करने का महत्वपूर्ण कार्य किया। राज्यपाल ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी जिनकी आज पुण्य तिथि है तथा प्रखर समाजवादी आचार्य नरेन्द्र देव की जयंती पर उन्हें स्मरण करते हुये श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि हमें महापुरूषों से सीखने की जरूरत है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरदार वल्लभभाई पटेल भारत के महान स्वतंत्रता सेनानी थे। सरदार पटेल ने देश की सांस्कृतिक एकता को राजनैतिक एकता देकर देश को एकता एवं अखण्डता के सूत्र में बांधा। उनकी दृढ़ संकल्प शक्ति और राष्ट्रभक्ति अप्रतिम थी। 565 से अधिक रियासतों को उन्होंने भारतीय गणराज्य का हिस्सा बनाया। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब डाॅ0 भीमराव आंबेडकर संविधान की शिल्पी हैं तो सरदार पटेल भारतीय गणराज्य के शिल्पी हैं। मुख्यमंत्री ने अपनी ओर से विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हुये कहा कि वर्तमान और आने वाली पीढ़ी को सरदार वल्लभभाई पटेल का देश के प्रति योगदान प्रेरित करता रहेगा।

राज्यपाल श्री राम नाईक एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इससे पूर्व जी0पी0ओ0 पार्क स्थित सरदार वल्लभभाई पटेल की प्रतिमा पर पुष्प चढ़ाकर कर अपनी श्रद्धांजलि भी अर्पित की।

rgautamlko@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

Sorry, the comment form is closed at this time.