20 April, 2018

साऊदी अरब ने दी रोबोट को नागरिकता, शुरु हुई बहस

ROBOT

नई दिल्ली। दुनिया में किसी रोबोट को नागरिकता देने वाला साऊदी अरब पहला देश बन गया है। हालांकि ऐसा करने के बाद इस बात पर बहस होनी शुरू हो गई है कि क्या रोबोट इंसानों के अस्तित्व के लिए एक बड़ा खतरा हैं। 

 

रियाद में एक कांफ्रेस के दौरान सोफिया नामक इस रोबोर्ट ने अपनी खुशी जाहिर करते हुए इसे इतिहासिक बताया है। सोफिया को हॉलीवुड अभिनेत्री आड्री हेपबर्न जैसी शक्ल दी गई है। 

 

साऊदी अरब का मानना है कि इससे देश को कृत्रिम बुद्धिमता तैयार करने के हब के तौर पर विकसित करने में सहायता मिलेगी। 

 

सोफिया इससे पहले यूएन में भी अपना संबोधन दे चुकी है। इसे हांगकांग की फर्म हेनसन रोबोटिक्स के संस्थापक डेविड हैनसन ने तैयार किया है। 

 

हालांकि लोगों में इसको लेकर खुशी भी है और कुछ के लिए यह एक सोचने का मुद्दा बन गया है। एक रोबोर्ट को नागरिकता मिलना कुछ लोगों के लिए अजीब है और कुछ के लिए खतरनाक। 

 

सीएनबीसी के एंड्रयू रॉस सॉर्किन के साथ बातचीत में सोफिया ने कहा, ‘‘वह आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का इस्तेमाल इंसानों की जिंदगी बेहतर बनाने के लिए करना चाहती हैं।’’

 

प्रदर्शन के दौरान सोफिया ने दर्शकों से कहा, ‘‘इस विशेष सम्मान को पाकर मैं बहुत गौरवान्वित महसूस कर रही हूं। दुनिया में पहली बार किसी रोबोट को नागरिकता से पहचाना जाना ऐतिहासिक है।’’

Review overview
NO COMMENTS

POST A COMMENT