16 December, 2018

सर्च इंजन डूडल ने चिपको आंदोलन को किया नमन

नयी दिल्ली। वैश्विक सर्च इंजन गुगल ने पेड़ों और वनों की रक्षा के लिए 44 वर्ष पूर्व शुरू किये गये चिपको आंदोलन को सलाम करते हुए आज इसी पर केन्द्रित अपना डूडल बनाया।

 

चिपको अभियान के 44 वर्ष पूरे होने के मौके पर बनाये गये डूडल में गुगल ने पेड़ों को बचाने के लिए उनके चारों ओर खड़ी महिलाओं को दर्शाया है। ये महिलाएं पेड़, हरियाली और वनों को बचाने लिए अपनी प्रतिबद्धता व्यक्त करती हुई प्रदर्शित की गयी हैं। इस डूडल को एस कोहली अौर विप्लव सिंह ने डिजाइन किया है।

 

चिपको अभियान को चिपको आंदोलन भी कहा जाता है। उत्तराखंड में 1974 में ग्रामीणों खासकर महिलाओं की ओर से एक गांव में शुरू किया गया अहिंसक, सामाजिक और पर्यावरण से जुड़ा यह अभियान जल्द ही पूरे इलाके में फैल गया।

 

गौरतलब है कि 26 मार्च 1974 को गौरा देवी ने उत्तराखंड के चमोली जिले के रेणी गांव के निकट एक पेड़ को काटने से बचाने के लिए अपनी जान की बाजी लगाकर उससे चिपट गयीं थी। इस घटना के बाद पास-पड़ोस की और महिलाओं ने उनका साथ दिया। बाद में इस आंदोलन को चंडी प्रसाद भट्ट और सुन्दर लाल बहुगुणा ने आगे बढ़ाया।

rgautamlko@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

Sorry, the comment form is closed at this time.