21 May, 2018

सोनी सब के ‘सजन रे फिर झूठ मत बोलो‘ में जया की उसकी मुसीबतों के साथ हुई वापसी

Soni, 'Sajan Ray, ' Jaya' sab tv

सोनी सब के ‘सजन रे फिर झूठ मत बोलो‘ में जया की याद्दाश्त खोने के बाद शो की कहानी दिन-प्रतिदिन बेहद भावनात्मक और दिलचस्प होती जा रही है। इस शो की आगामी कहानी में हम देखेंगे कि जय और जया गरीबघर में लौट आये हैं और उसके परिवार वालों को महसूस होता है कि वह थोड़ा अलग व्यवहार कर रही है। जया (पार्वती वेज़) काफी जिज्ञासु है और आस-पास की हर चीज को लेकर उसे संदेह होता है। जय जहां एक ओर, जया को नये साल के 2018 की तारीख की अखबार नहीं पढ़ने देने में सफल हो जाता है, वहीं दूसरी ओर, लोखंडे (शरद पोंकशे) और प्रेमचंद (टिकु तलसानिया) उसे रेडियो पर भी खबर सुनने से रोकते हैं।

प्रेमचंद और जय से लोखंडे कहते हैं कि अपनी ही बेटी से उसकी याद्दाश्त खोने के बारे में झूठ बोलकर उन्हें अच्छा नहीं लग रहा है, इसलिये वह ज्ञानचंद से मिलना चाहते हैं। ज्ञानचंद लोखंडे को बताते हैं कि यदि किसी झूठ से किसी का भला होता हो, वह पाप नहीं है। लोखंडे को यह सुनकर थोड़ी राहत मिलती है और वह ज्ञानचंद को गले लगा लेते हैं। लेकिन दुर्भाग्य से उनकी दाढ़ी लोखंडे के कुर्ते में फंस जाती है। अब प्रेमचंद और जय (हुसैन कुवजेरवाला) मुसीबत में हैं और इस स्थिति से उन्हें निपटना है। प्रेमचंद और दीपक सभी अखबारों एवं कैलेंडर की तारीख 2012 में बदलने की व्यवस्था कर रहे हैं ताकि जया को सच पता नहीं चल पाये। क्या परिवार के लोग जया को सच जानने से रोक पायेंगे? क्या जया को जय के लिये अपना प्यार याद आ पायेगा?

कहानी में आये इस नये ट्विस्ट के बारे में बताते हुये अभिनेता शरद पोंकशे, जोकि इस शो में लोखंडे की भूमिका निभा रहे हैं, ने कहा, ‘‘मेरी बेटी जया अपने पिछले पांच सालों की बातें को भूल चुकी है और इसी के साथ कहानी एक नये दिशा में रूख कर रही है। दर्शकों के लिये यह देखना दिलचस्प होगा कि जया और हम सभी 2012 की तरह चीजों को व्यवस्थित करने का प्रयास कर रहे हैं। इससे कई हास्यजनक स्थितियां एवं असमंसज के हालात उत्पन्न होंगे, जिससे शो और भी मजेदार हो जायेगा।‘‘ सोनी सब के ‘सजन रे फिर झूठ मत बोलो‘ में यह दिलचस्प कहानी देखिये, सोमवार से शुक्रवार, रात 9 बजे

rgautamlko@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

POST A COMMENT