14 December, 2018

भाजपा नेता समेत तीन की हत्या में फरार चल रहे 50,000 के इनामी को एसटीएफ ने दबोचा

एम.एम.सरोज

लखनऊ। भाजपा नेता समेत तीन लोगों की दिनदाहाड़े हत्या के आरोप में फरार चल रहे पचास हजार के इनामी बदमाश को एसटीएफ ने मंगलवार को गिरफ्तार किया है, उनके कब्जे से एसटीएफ ने अवैध असलह व जिंदा कारतूस बरामद किये हैं। उत्तर प्रदेश एसटीएफ एसएसपी अभिषेक सिंह ने बताया कि 16 सितम्बर 2017 को अज्ञात बदमाशों ने जनपद गौतमबुद्धनगर थाना बिसरख क्षेत्र के भाजपा नेता शिवकुमार यादव सहित तीन लोगों की गोली मारकर दिनदहाड़े सनसनीखेज हत्या कर दी गयी थी। इस सम्बन्ध में थाना बिसरख जनपद गौतमबुद्धनगर में अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज हुआ था। इस सनसनीखेज हत्याकाण्ड में शामिल हत्यारों को पकडऩे के लिए उत्तर प्रदेश एसटीएफ एसएसपी अभिषेक सिंह ने एक टीम बनाई जिसमें अपर पुलिस अधीक्षक राजीव नारायण मिश्र व राजकुमार मिश्रा, पुलिस उपाधीक्षक को निर्देश देते हुए कहां कि जल्द अपराधियों को पकड़े वहीं एसटीएफ टीम ने गौतमबुद्धनगर में मुखबिर की सूचना पर सनसनीखेज तीहरे हत्याकांण्ड का ईनामी अपराधी निवासी ग्राम खेड़ी थाना सूरजपुर जनपद गौतमबुद्धनगर प्रदीप उर्फ भोला पुत्र राजवीर को मंगलवार दोपहर को चैरी काउटी चौराहे के पास थाना बिसरख क्षेत्र गौतमबुद्धनगर में एक मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया एसटीएफ की पूछतांछ में हत्यारोपी भोला ने बताया कि उसने गे्रटर नौएडा स्थित एक निजी संस्थान से बीबीए पास किया है तथा श्रीराम ट्रान्सपोर्ट के नाम से अपना ट्रान्सपोर्ट गे्रटर नौएडा में चलाता है। उसकी मुलाकात अनिल भाटी से पंकज निवासी ग्राम घंघोला थाना गे्रटर नौएडा ने कराई थी । प्रदीप उर्फ भोला ने यह भी बताया है कि तिहरे हत्याकाण्ड के समय वह भी अनिल भाटी के साथ उसकी कार में मौके पर मौजूद था जबकि अन्य शूटर मोटर साईकिल से वहॉ पहॅुचे थे । इसके पश्चात भाजपा नेता शिवकुमार यादव आदि सहित तीन लोगों की हत्या की घटना को अंजाम दिया गया था। भोला ने बताया कि अनिल भाटी ने अरूण निवासी खैरपुर और उसकी ट्रान्सपोर्ट की कुछ गाडिय़ों को विभिन्न कम्पनी में लगवाया हुआ है और ये गाडियॉ जब दिल्ली में जाती है तब अनिल भाटी व इसके गैंग के सदस्य, इन गाडियों को बिना एमसीडी टोल दिये दिल्ली में प्रवेश करा देते तथा इसकी एवज में अनिल भाटी बड़ी धनराशि प्राप्त करता है। एमसीडी के विभिन्न टोलों पर अनिल भाटी से जुड़े युवक रात्रि में तैनात रहकर, अपने परिचितों की गाडी सम्बन्धित टोलों से दिल्ली में बिना निर्धारित शुल्क दिये प्रवेश करा देते हैं । तिहरे हत्याकाण्ड का अनावरण करते हुए शार्प शूटर नरेश तेवतिया पुत्र बिजेन्द्र सिंह तेवतिया निवासी ग्राम बीरपुरा थाना जारचा, गौतमबुद्धनगर, घटना कराने वाले अरूण यादव पुत्र स्व. महेन्द्र सिंह निवासी आर-71 वकील कॉलोनी, विजय नगर गाजियाबाद और रैकी कराने वाले धर्मदत्त शर्मा उर्फ सोनू पुत्र दुलीचन्द निवासी ग्राम शेखपुर गढवा, थाना खानपुर बुलन्दशहर 4 दिसम्बर-2017 को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। कार्यवाही करते हुए शार्प शूटर अनिरूद्व भारद्वाज उर्फ अन्नी उर्फ रावण उर्फ पंडित उर्फ उपाध्याय पुत्र स्व. अनिल भारद्वाज निवासी 625 कस्बा व थाना छपार जनपद मुजफ्फ रनगर को 22 दिसम्बर 2017 को भी गिरफ्तार करने में सफ लता प्राप्त हुयी थी। अभियुक्त अनिरूद्व पर भी जनपद गौतमबुद्धनगर से इसी हत्याकाण्ड में इसकी गिरफ्तारी के लिए पच्चीस हजार का पुरस्कार घोषित था।

grish1985@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

Sorry, the comment form is closed at this time.