21 November, 2018

ताइक्वांडो फेडरेशन ने 65 विभूतियों को किया सम्मानित

Taekwondo Federation, 65 personality, karaj mishra, Divyasandesh

लखनऊ। ताइक्वांडो फेडरेशन ऑफ इण्डिया (टीएफआई) की 41वीं वर्षगांठ पर रविवार को 65 अन्तरराष्ट्रीय खिलाड़ियों व विभूतियों को ताइक्वांडो हाल ऑफ फेम इण्डिया 2017 से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद कलराज मिश्र ने कहा कि यह खेल हमें अनुशासन और आत्मनियंत्रण सीखाता है। इससे मनुष्य न केवल स्वस्थ्य रहता बल्कि उसे अपनी श्वांस पर नियंत्रण रखना भी आ जाता है। उन्होंने कहा कि मैं आशा करता हूं कि इसका प्रसार लखनऊ से लेकर पूरे भारत में होगा। इस विधा से हम मानसिक रूप से स्वस्थ्य रहते हैं। उन्होंने कहा कि यह खेल समपर्ण और त्याग का प्रतीक है। ताइक्वांडो पर नियुद्ध के माध्यम से हम अपने शरीर की स्फूर्ति को बढ़ा सकते हैं। उन्होंने कहा विद्यालयों में भी इसके महत्व को समझाया जाना चाहिए। हम प्रदेश सरकार से गुजारिश करेंगे कि इसे स्कूल के पाठ्यक्रम में जोड़ा जाना चाहिए।

खेल को बढ़ावा दे रही योगी सरकार

इस मौके पर उत्तर प्रदेश सरकार के विधि, न्याय और राजनीतिक पेंशन मंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि प्रदेश सरकार खेल को बढ़ावा देने के लिए बहुत सारे काम कर रही है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने इस महत्व को समझते हुए केन्द्र और राज्य दोनों जगह खिलाड़ियों को ही इस मंत्रालय की जिम्मेदारी दी है। उन्होंने कहा कि हमारे वरिष्ठ नेता कलराज मिश्रा ने जिस प्रकार संगठन को आगे बढ़ाया है इसी प्रकार वह इस फेडरेशन को बहुत ऊंचाइयों पर ले जायेंगे।
पाठक ने एक प्रश्न के जवाब में कहा कि योगी आदित्यनाथ सरकार में लगातार निवेशकों की संख्या बढ़ रही है। प्रदेश में कानून व्यवस्था का माहौल बदल रहा है। धीरे-धीरे शांति कायम हो रही है। आगरा एक्सप्रेस-वे पर वायुसेना अभ्यास पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि हम देश के हर नेशनल और स्टेट हाईवे को हवाई पट्टी की तरह उपयोग करने के लायक बना रहे हैं। इसलिए ऐसे अभ्यास समय-समय पर होते रहते हैं। इससे सेना का मनोबल और मजबूत होता है। पाठक ने कहा कि ताजमहल हमारे मजदूरों की खून-पसीने से खड़ी की हुई इमारत है। हिन्दुस्तान की सरजमीं पर बना होना अपने आप में गौरव और प्यार को झलकता है। इसलिए हमारी सरकार इसे और भी विकसित करेगी।

खिलाड़ियों की समस्या का प्राथमिकता पर होगा निदान

प्रदेश सरकार के खेलकूद मंत्री चेतन चौहान ने कहा कि हमारी सरकार खेलों को बढ़ावा देने के लिए बहुत सारी योजनाएं ला रही है। हम उत्तर प्रदेश के अर्जुन और द्रोणाचार्य आवार्ड से सम्मानित खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाने के लिए उन्हें 30 हजार रूपये प्रतिमाह पेंशन देने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि खिलाड़ी होने के नाते वह खिलाड़ियों का दर्द जानते हैं। इसलिए ऐसी सुविधा देने की कोशिश है कि कोई खिलाड़ी परेशान न हो। खिलाड़ियों को सूबे के 11 विभागों में नौकरी दिलाने की प्लानिंग बनाई गई है। उत्तर प्रदेश में भी केंद्र की तर्ज पर ओलिंपिक पदक धारकों को इनाम मिलेगा। खेल मंत्री ने कहा कि इसके अलावा भी खिलाड़ियों की हर समस्या का निदान प्राथमिकता के आधार पर किया जाएगा। स्टेडियमों का स्तर सुधारा जा रहा है। स्कूलों में खेल को अनिवार्य करने पर विचार चल रहा है। सूबे के खिलाड़ी लगातार राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नाम रोशन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्र और प्रदेश सरकार ने जिम्मेंदारी दी है। उसे संभालने के लिए हम प्रदेश में प्रतिभाओं को खोंज रहें उन्हे आगे बढ़ाने का काम किया जायेगा।

इन विभूतियों का हुआ सम्मान

1. सुधीर हलवासिया
2. सैय्यद रफत
3 .आशीष पांडे
4. राकेश लदानी
5..मनोज त्यागी
6. महेंद्र मोहन जायसवाल (टाइगर श्रॉफ के कोच)
7. पीटर जगतयानी
8. नीतू चंद्रा
9. महंत योगेश पुरी
10. आनंद किशोर पांडे
11. संजय राणा
12. इश्तियाक अहमद
13. नरेश कुमार सिंह
14. एम नागौर
15. किरण कश्यप
16. रामगोपाल बाजपेई
17. राकेश के गुप्ता
18. किरण उपाध्याय

rgautamlko@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

Sorry, the comment form is closed at this time.