15 December, 2018

थानेदार के साथ महिला इंस्पेक्टर भी सुनेंगी पीड़ित की फरियाद : आईजी रेंज

रेंज के सभी कप्तान महिला पुलिसकर्मियों के साथ करें मीटिंग

एम.एम.सरोज

लखनऊ। थानों पर पीडि़तों की अनदेखी करने वाले थानेदारों की अब खैर नहीं, अब उनके थाने पर महिला पुलिस कर्मी भी पीडि़तों की शिकायत सुनेंगी और मामले का निस्तारण भी करवाएंगी। पीडि़तों के साथ थानों पर हो रही लापरवाही को लेकर आखिरकार आईजी रेंज ने कड़ा रुख अपना लिया है। रेंज के सभी थानों पर पुरुष पुलिसकर्मी के साथपीडि़तों की फ रियाद अब महिला पुलिसकर्मी अधिकारी भी सुनेंगी, और उसका समाधान भी करेंगी। थानों पर आने वाले पीडि़तों की समस्या का समाधान किए जाने के लिए आईजी रेंज सुजीत पांडेय ने यह नया र्फमूला अपनाया है। इसके लिए थाना व कोतवालियों में एक अलग से काउंटर बनेगा जहां पर महिला पुलिस अधिकारी बैठकर फ रियादियों की फ रियाद सुनने के साथ संबधित थाना प्रभारी की मौजूदगी में शिकायतों का निस्तरण करेंगी।

आईजी रेंज सुजीत पांडेय ने रेंज के सभी कप्तानों को निर्देश जारी कर कहा कि वे खुद ही महिला पुलिसकर्मियों के साथ मीटिंग करे उन्हें ब्रीफ करना सुनिश्चित करेंगे। आईजी रेंज ने सभी थानों पर तैनात महिला पुलिस अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि थानों पर शिकायत लेकर आने वाले पीडि़तों को थाना प्रभारियों की मौजूदगी में पीडि़तों की समस्या सुने और मामले का जल्द निस्तारण करें। उन्होंने कहा कि ड्यूटी अधिकारी का यह फ र्ज होगा कि वे थानों पर प्राप्त शिकायत को शिकायत रजिस्टर में दर्ज कर उसे जिम्मेदार स्टेशन अफ सर के समक्ष पेश करेंगी। आईजी रेंज ने दिए गए फ रमान में यह भी जारी किया है कि थानों पर आने वाले शिकायती प्रार्थना पत्रों में से करीब 25 प्रतिशत शिकायतों का फ रियादियों से मोबाइल फ ोन के जरिए से प्राप्त करेंगी। बताया गया कि पुलिस महिला अधिकारियों की ड्यूटी सुबह आठ बजे से लेकर शाम सात बजे लगाई जाये। जारी किए गए निर्देश में आईजी रेंज ने कहा कि अगर थाना प्रभारी अवकास पर हैं तो ड्यूटी अधिकारी खुद समस्या सुनें और मामले का निस्तारण करें। फि लहाल अब रेंज के सभी थानों पर पुरुष पुलिसकर्मी के साथ महिला पुलिसकर्मियों को पीडि़तों की समस्या सुनने के लिए तैनात किया जायेगा।

grish1985@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

Sorry, the comment form is closed at this time.