15 August, 2018

पिछड़ों व गरीबों की लड़ाई लड़ना गलत है तो बार-बार गलती करेंगे: ओमप्रकाश राजभर

लखनऊ। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष एवं योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की संयमित रहने की हिदायत को दरकिनार करते हुए कहा है कि अगर पिछड़ों और गरीबों की लड़ाई लड़ना गलत है तो ये गलती वह बार-बार करेंगे।
प्रदेश सरकार से नाखुश चल रहे ओमप्रकाश राजभर ने सोमवार को ट्वीट के माध्यम से कहा कि वह सत्ता सुख के लिए राजनीति नहीं करते हैं। वह पिछड़ों के हक के लिए संघर्ष करते रहेंगे चाहे जो परिणाम हो।
उन्होंने कहा कि एससी-एसटी, मुस्लिम व सामान्य वर्ग के 24 लाख छात्रों के लिए तीन हजार करोड़ रुपये का बजट में प्रावधान किया गया है। जबकि 26 लाख पिछड़े वर्ग के छात्रों के लिए मात्र एक हजार 85 करोड़ का छात्रवृत्ति का बजट में प्रावधान किया गया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने एससी-एसटी, अल्पसंख्यक, जनरल कैटेगरी के वंचित छात्रों के लिए एक पोर्टल खोला है। वंचित छात्र 16 अप्रैल से 15 मई तक पोर्टल पर आवेदन कर सकते हैं। पिछड़े छात्रों के लिए कोई पोर्टल की व्यवस्था नहीं किया गया।
राजभर ने कहा कि पिछड़े वर्ग में तीन कटेगरी पिछड़ा, अति पिछड़ा व सर्वाधिक पिछडा़ बनाकर सबको हिस्सा दिलाने की लड़ाई वह लड़ते रहेंगे। पात्रों को आवास, पेंशन, शौचालय व राशन कार्ड की लड़ाई उनकी जारी रहेगी।
गौरतलब है कि रविवार को एक पत्रकार वार्ता के दौरान भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने ओमप्रकाश राजभर को संयमित रहने की हिदायत दी थी। उन्होंने कहा था कि पार्टी पार्टी प्रतिष्ठा पर आंच नहीं आने देगी। अगर वह चुप नहीं हुए तो निश्चित रूप से कार्यवाही होगी।

grish1985@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

POST A COMMENT