20 November, 2017

उपराष्ट्रपति चुनाव : नायडू ने विपक्ष की बैठक पर ली चुटकी

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने विपक्ष के उपराष्ट्रपति चुनाव की बैठक पर चुटकी ली है। उन्होंने कहा बिना साझा विचारधारा के किसी बैठक का कोई अर्थ नहीं है| नायडू ने गुरुवार को कहा, ‘बिना किसी साझा विचारधारा, संयुक्त राजनीतिक एजेंडे के बिना नेता चुनना कभी सफल नहीं होगा। ऐसी किसी बैठक का कोई अर्थ नहीं| ‘

 

दरअसल राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष को एकजुट करने में असफल रही कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद के अनुसार उपराष्ट्रपति चुनाव की तैयारियों को लेकर विपक्षी दलों की अहम बैठक 11 जुलाई को आयोजित की गई है। इसमें सर्वसम्मति से उपराष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार के तय करने का प्रयास किया जाएगा। फिलहाल कांग्रेस अब उपराष्ट्रपति चुनाव को लेकर नई रणनीति के साथ उतरना चाहती है।

 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इसको लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने बिहार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी सम्पर्क साधा है और उन्हें मनाने के प्रयास किये जा रहे हैं। दरअसल राष्ट्रपति चुनाव में नीतीश ने एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को समर्थन किया है। जिसके बाद विपक्ष की एकजुटता पर कई सवाल उठे हैं। बिहार में महागठबंधन के नेता आपस में एक-दूसरे पर लगातार वार-पलटवार कर रहे हैं।

 

राष्ट्रपति चुनाव के मामले में एनडीए के साथ खड़ी जेडीयू अब उपराष्ट्रपति चुनावों में विपक्ष के साथ जाएगी। इसके संकेत जेडीयू के महासचिव केसी त्यागी ने बुधवार को दिए थे। त्यागी ने कहा कि विपक्ष जो भी साझा उम्मीदवार चुने, जेडीयू उसके साथ है।त्यागी ने कहा था कि उपराष्ट्रपति के चुनाव के लिए फिर से उन्हीं 17 पार्टियों की बैठक बुलाकर सबकी सहमति से विपक्ष के उम्मीदवार का चयन होना चाहिए।

monika.254229@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

POST A COMMENT