17 November, 2018

राष्ट्रपति मोदी को चेतावनी दें : कांग्रेस

नयी दिल्ली। कांग्रेस ने कर्नाटक विधान सभाचुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के भाषण में पार्टी को धमकी दिये जाने की कड़ी भर्त्सना करते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से अनुरोध किया है कि वह श्री मोदी कों अशोभनीय भाषा का इस्तेमाल न करने की चेतावनी दें और उन्हें पद की गरिमा को बनाये रखेने की सलाह दें ।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नवी आजाद , पूर्व वित्त मंत्री पी चिदम्बरम , पार्टी के वरिष्ठ नेता कर्ण सिंह , मोती लाल बोरा समेत कई नेताओं की ओर से श्री कोविंद को भेजे गये पत्र में श्री मोदी के छह मई को हुगली में दिये गये भाषण के संदर्भ में यह शिकायत की गयी है । पत्र में श्री मोदी के उस भाषण के एक अंश को उद्धृत किया गया है और उसका वीडियो भी भेजा गया है जिसमें उनके हवाले से कहा गया है “ कांग्रेस के नेता कान खोल कर सुन लीजिये अगर सीमाओं को पार करेंगे तो यह मोदी है , लेने के देने पर जायेंगे । ”

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि प्रधानमंत्री संविधान की शपथ लेकर कहता है कि वह उसके मूल्यों के अनुरुप काम करेगा और अब तक देश के सभी प्रधानमंत्रियों ने अपने पद की गरिमा और प्रतिष्ठा का ख्याल रखते हुये अपने दायित्वों का निर्वहन किया है लेकिन यह कल्पना भी नहीं किया जा सकता कि देश का प्रधानमंत्री मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के नेताओं को इस तरह खुलेआम धमकी देगा । पत्र में कांग्रेस नेताओँ ने श्री मोदी के भाषण की कड़ी भर्त्सना करते हुए कहा है कि 130 करोड़ की आबादी वाले लोकतांत्रिक देश के प्रधानमंत्री की ऐसी भाषा स्वीकार करने लायक नहीं है जो निजी तौर पर या सार्वजनिक रुप दिया गया हो । ये धमकी भरे शब्द न केवल अपमानजनक बल्कि इससो शांति भी भंग होती है ।
पत्र में यह भी कहा गया है कि कांग्रेस पार्टी सबसे पुरानी पार्टी है और उसने कई चुनौतियों तथा धमकियों का सामना किया है । कांग्रेस नेतृत्व ने हमेशा अपने साहस और निडरता का परिचय दिया है । कांग्रेस और उसके नेता किसी की धमकियों से झुकनेवाले नहीं हैं ।
इन नेताओं ने श्री कोविंद से कहा कि देश के संवैधानिक प्रमुख होने के नाते उनका यह दायित्व बनता है कि वह प्रधानमंत्री को सलाह और निर्देश दें । प्रधानमंत्री से आशा नहीं की जाती है कि वह चुनाव के दौरान राजनीतिक बदला लेने और व्यक्तिगत रंजिश के आधार पर ऐसी धमकी भरी भाषा का इस्तेमाल करें ।
पत्र लिखने वाले अन्य नेताओं में लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकाजुर्न खड़गे , पूर्व मंत्री कमलनाथ , अम्बिका सोनी , पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह , अशोक गहलोत और अहमद पटेल शामिल हैं ।

 

grish1985@gmail.com

Review overview
NO COMMENTS

Sorry, the comment form is closed at this time.