20 November, 2017

‘ढुलमुल रवैये’ पर अधिकारियों की क्लास लेंगे योगी

लखनऊ। मुख्यमंत्री कार्यालय के आदेश पर अभी तक जिन शिकायतकर्ताओं की शिकायत जिले के प्रशासनिक अफसरों ने नहीं सुनी है या उनकी फरियाद सुनने के बावजूद कार्य में लापरवाही बरत रहे हैं, उन मामलों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान में लिया है। अब से कुछ देर में ऐसे ही मामलों को लेकर मुख्यमंत्री वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये शिकायतकर्ताओं के सामने ही अधिकारियों की क्लास लेंगे। 

 

बताते चलें कि प्रदेश की योगी सरकार मुख्यमंत्री कार्यालय में आने वाली शिकायतों को लेकर बेहद गंभीर है। जनता की आने वाली समस्याओं को लेकर जिले के संबंधित डीएम और एसपी को निर्देश दिए जा चुके हैं। वहीं कई विभागों से मिले फीडबैक के बाद यह पता चला है कि जन शिकायतों का निर्धारित समय में निस्तारण न होने से मुख्यमंत्री काफी नाराज हैं। शिकायतों का अंबार लगा है। मुख्यमंत्री कार्यालय से कार्रवाई के लिए भेजे गए प्रार्थना पत्रों का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण नहीं हो रहा है। 

 

सच्चाई जानने के लिए मुख्यमंत्री अब से कुछ देर में खुद जन सुनवाई प्रणाली (आइजीआरएस) की कसौटी पर दस जिलों के डीएम और एसपी की कार्यशैली परखेंगे। वह दस जिलों के डीएम, एसपी से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बात करेंगे। शासन से डीएम और एसएसपी-एसपी को आइजीआरएस से संबंधित समस्त सूचनाओं के साथ जिले के एनआइसी सेल के वीडियो कांफ्रेंसिंग कक्ष में संबंधित नोडल अधिकारी के साथ उपस्थित रहने के निर्देश दिए गए हैं।

Review overview
NO COMMENTS

POST A COMMENT